Traffic Rules

Car Drive Tips: चप्पल पहनकर कार चलाने वाले हो जाए सावधान, जान पर भारी पड़ सकती है ये छोटी सी गलती

शेयर करे

नई दिल्ली, Car Drive Tips :- कई बार ज़ब हमें आसपास कोई काम होता है तो हम चप्पल में निकल पड़ते है. पर क्या आप जानते है कि चप्पल पहनकर कार चलानी चाहिए या नहीं. कानून की ओर से आप इसे लेकर स्वतंत्र हैं. आप अपनी मर्जी से चप्पल पहनकर कार चला सकते है. पर इस बात का भी ध्यान रखें कि आमतौर पर चप्पल पहनकर कार चलाने की सलाह नहीं दी जाती है. ऐसा इसलिए क्योंकि इसके कुछ नुकसान हैं.

Join WhatsApp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

चप्पल में पैडल पर पैर फिसलने का होता है खतरा

बहुत से लोग इसे नहीं समझते हैं और चप्पल पहनकर ही ड्राइव करना पसंद करते हैं.  चप्पल पहनकर ड्राइव करना खतरनाक साबित हो सकता है. इससे दुर्घटना होने का खतरा बना रहता है. ऐसे में चप्पल में कार चलाने से बचना चाहिए. दरअसल, चप्पल में पेडल पर ठीक से पकड़ नहीं बनती है. इससे Brake,  क्लच या एक्सीलेरेटर पेडल पर पैर फिसलने का खतरा होता है.

See also  Car मे भूलकर भी ना करवाये ये 4 मॉडिफिकेशन्स, बिना काम कट जाएगा मोटा चालान

Control से बाहर हो सकती है Car

अचानक ब्रेक लगाने पर चप्पल पेडल पर आसानी से फिसल सकती है क्योंकि उसकी ग्रिप अच्छी उतनी अच्छी नहीं बन पाती, जिनती जूतों की होती है. इससे कार Control के बाहर जा सकती है और दुर्घटना हो सकती है. चप्पल के पेडल्स के बीच में फंसने का खतरा भी बना रहता है. Manual कारों में तीन पेड- एक्सीलरेटर पेडल, ब्रेक पेडल और क्लच पेडल होते हैं.

पैडल के बीच में फंस सकता है पैर 

आपका राइट लेग (पैर) एक्सीलरेटर पेडल और ब्रेक पेडल पर शिफ्ट करता रहता है. जब आप एक्सीलरेटर पेडल से ब्रेक पेडल पर या फिर ब्रेक पेडल से एक्सीलरेटर पेडल पर पैर Shift करते हैं तो हो सकता है आपको चप्पल पेडल्स के बीच में फंस जाए. ऐसे में चप्पल को निकलने के चक्कर में आपसे गलती से एक्सीलरेटर या ब्रेक पेडल हार्ड Press हो सकता है. इन्हीं वजह से चप्पल में कार चलाने से बचने की सलाह दी जाती है.

शेयर करे

Deepika Bhardwaj

Hello my name is Deepika Bhardwaj. I am working as a content writer on Khabri Auto since 2022. I have done master degree in commerce. My aim is that every news should reach you as soon as possible. I always try to write the news in simple words so that the readers do not have any problem in understanding it and they get complete information.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button